मोक्ष का अधिकारी | Hindi Story on Beatification

मोक्ष का अधिकारी Hindi Story on Beatification - Hindi Stories एक संत अत्यंत विद्वान तथा त्यागी तपस्वी थे। सवेरे से शाम तक घोर तपस्या करते, भगवान...

असीमित पुण्य | Hindi Story on Charity

असीमित पुण्य Hindi Story on Charity - Hindi Stories गुजरात की राजमाता मीलणदेवी ने भगवान सोमनाथ जी का विधिवत् अभिषेक किया। सोने का तुलादान कर उसे...

सम्पति की सार्थकता | Hindi Story on Wealth

सम्पति की सार्थकता Hindi Story on Wealth - Hindi Stories कलकत्ता में एक बार भीषण अकाल पडा। लोग भूखे मरने लगे। हजारों व्यक्ति तथा गाय-बैत्त अकाल की...

समय का प्रभाव | Hindi Story on Time

समय का प्रभाव Hindi Story on Time - Hindi Stories महाराजा युधिष्ठिर ‘धर्मराज थे। उनकी प्रजा भी धर्मात्मा थी। उनके राज्य में एक वैश्य ने अपना...

करुणा भाव | Hindi Story on Compassionate

करुणा भाव Hindi Story on Compassionate   - Hindi Stories डॉ. विपिनबिहारी बोस स्वामी विवेकानंद के प्रति समर्पित थे। उनके पुत्र की असमय मृत्यु हो गई। परिवार...

अनूठी दक्षिणा | Hindi Story on Dakshina

अनूठी दक्षिणा Hindi Story on Dakshina - Hindi Stories जैनमुनि सुदर्शनजी महाराज रोहतक में चातुर्मास के दौरान स्थानक (जैन मंदिर) में ठहरे हुए थे। वे एक...

अनूठी प्रेरणा | Hindi Story on Inspiration

अनूठी प्रेरणा Hindi Story on Inspiration - Hindi Stories परम विरक्त संत ‘पद्मभूषण' स्वामी कल्याणदेव जी महाराज एक उद्योगपति के आमंत्रण पर उनके निवास स्थान पर...

पते की बात | Hindi Story on Superstition

पते की बात Hindi Story on Superstition - Hindi Stories महाकवि महात्मा रामचंद्र वीर महाराज कोलकाता के काली मंदिर में निरपराध बकरों की बलि देने की कुप्रथा...

बहिष्कार | Hindi Story on Extrusion

बहिष्कार Hindi Story on Extrusion - Hindi Stories सन् १९१७  के दिन थे। मुम्बई के गवर्नर लार्ड विलिंगडन ने विश्व युद्ध में भारतीयों की सहायता के...

संकल्प | Hindi Story on Commitment

संकल्प Hindi Story on Commitment - Hindi Stories एक राजा शिकार के लिए वन में गया। उसने हिरण को निशाना लगाकर धनुष से तीर छोड़ा। हिरण...

Email Subscription

सोशल मिडिया पर हमसे जुड़ें

11,545FansLike
16FollowersFollow
36FollowersFollow
6,263SubscribersSubscribe
loading...