अदरक के फायदे, स्वास्थ्य लाभ नुकसान : Health Benefits of Ginger in Hindi

0
407

खांसी के लिए : (1) खांसी में अदरक बहुत फायदेमंद होता है। खांसी आने पर अदरक के छोटे टुकडे को बराबर मात्रा में शहद के साथ गर्म करके दिन में दो बार सेवन कीजिए। इससे खांसी आना बंद हो जाएगा और गले की खराश भी समाप्त होगी। (2) एक चम्मच Adrak  का रस और  एक चम्मच शहद मिलाकर दिन मे दो  बार चाटने से खांसी जुकाम और दमा आदि में आराम मिलता है। दो चम्मच घी और एक चम्मच गुड़ गरम करके एकसार कर ले। आंच पर से उतार कर इसमें एक चम्मच पिसी हुई सोंठ डाल दें। इसे खाली पेट सुबह खाएं। लगातार तीन चार दिन खाने से सर्दी खांसी जुकाम ठीक हो जाते है।

दस्त : बार-बार पानी जैसे पतले दस्त हो रहे हो तो आधा कप उबलते गर्म पानी में एक चम्मच Adrak  का रस मिलाकर हर एक घंटे से पीयें। जितना हो सके उतना गर्म ही पीयें। इससे पतले दस्त रुकते है। एक चम्मच पिसी हुई सोंठ की पानी के साथ फंकी लेने से भी इस तरह के दस्त ठीक होते है। यदि दूध पीने से दस्त लग जाते हो तो दूध में चौथाई चम्मच पिसी हुई सोंठ डालकर उबालें। फिर ठंडा करके पिएँ।

भूख की कमी के लिए : अगर भूख लगने में दिक्कत हो रही हो तो अदरक का नियमित सेवन करने से भूख न लगने की समस्या का निजात मिल जाएगा। अदरक को बारीक काटकर, थोडा सा नमक लगाकर दिन में एक बार लगातार आठ दिन तक खाइए। इससे पेट साफ होगा और ज्यादा भूख लगेगी। 

हाजमे के लिए : पेट और कब्ज की समस्या के लिए अदरक बहुत फायदेमंद है। अदरक को अजवाइन और नींबू के रस के साथ थोडा सा नमक मिलाकर खाइए। इससे पेट का दर्द ठीक होगा और खट्टी-मीठी डकार आना बंद हो जाएगी। 

उल्टी के लिए : अगर बार-बार उल्टी आ रही हो तो अदरक को प्याज के रस के साथ दो चम्मच पिला दीजिए। इससे उल्टी आना बंद हो जाएगी। 

सर्दी और जुकाम : सर्दी और जुकाम में अदरक बहुत फायदेमंद है। सर्दी होने पर अदरक की चाय पीने से फायदा होता है। इसके अलावा अदरक के रस को शहद में मिलाकर गर्म करके पीने से फायदा होता है। 

जोड़ों का दर्द : पिसी हुई सोंठ दो चम्मच , असगंध पाउडर दो चम्मच और पिसी हुई मिश्री तीन चम्मच मिला लें। इस मिश्रण में से एक-एक  चम्मच सुबह शाम गर्म पानी से लें। दो सप्ताह तक लगातार इसे लेने से जोड़ों का दर्द ठीक होता है। गठिया के दर्द में आराम मिलता है।

गैस : पेट में  गैस अधिक बनती हो तो आधा चम्मच  पिसी हुई सोंठ में नमक मिलाकर दिन में तीन बार गर्म पानी से फांक लें। गैस बननी बंद हो जाएगी।

अगले पेज पर पढ़ें और अधिक फायदे

LEAVE A REPLY