Ram Nath Kovind Biography in Hindi : रामनाथ कोविन्द की जीवनी

0
227
Ram Nath Kovind Biography in Hindi
Ram Nath Kovind Biography in Hindi

Ram Nath Kovind Biography in Hindi : एक परचून की दुकान चलाने वाले का बेटा आज देश के सर्वोच्च संवैधानिक पद पर आसीन है, आइयें जानते है रामनाथ कोविंद के जीवन के बारें में—

 Ram Nath Kovind Biography in Hindi

 रामनाथ कोविन्द का जीवन परिचय


राष्ट्रपति चुनाव में एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद ने जीत दर्ज कर ली है, इस जीत के साथ ये तय हो गया है कि रामनाथ कोविंद देश के 14वें महामहिम के रूप में पदभार ग्रहण करेंगे, एक बेहद साधारण दलित परिवार में जन्मे कोविंद अब देश की सर्वोच्च इमारत रायसीना हिल्स में रहेंगे

1 अक्टूबर 1945 को यूपी के कानपुर देहात जिले के परौंख गांव में जन्मे कोविंद ने अपने करियर की शुरुआत सुप्रीम कोर्ट के वकील के तौर पर की थी, कोविंद के परिवार में पिता के अलावा मां कलावती थीं, इनके अलावा कोविंद के चार भाई और तीन बहनें हैं, इनके परिवार में पत्नी सविता, एक बेटा प्रशांत और एक बेटी स्वाति है, रामनाथ कोविंद शुरू से मिलनसार स्वभाव के रहे हैं

रामनाथ कोविंद जी की राजनीतिक जीवन : Ram Nath Kovind Biography in Hindi

  • वे 1977 में तत्कालीन पीएम रहे मोरारजी देसाई के पर्सनल सेक्रेटरी बने। वे 2 बार सांसद का चुनाव 1990 में घाटमपुर से एमपी का इलेक्शन, और ये 2007 में यूपी की भोगनीपुर सीट से भी लड़े है, लेकिन हार गए
  • रामनाथ कोविंद 1978 में सुप्रीमकोर्ट में वकील के तौर पर अप्वाइंट हुए। 1980 से 1993 के बीच सुप्रीमकोर्ट में केंद्र की स्टैंडिंग काउंसिल में भी रहे
  • रामनाथ कोविंद बीजेपी का दलित चेहरा हैं। कोविंद दलित बीजेपी मोर्चा के अध्यक्ष भी रहे हैं। वे ऑल इंडिया कोली समाज के प्रेसिडेंट भी हैं
  • रामनाथ कोविंद ने 1994 से 2000 तक और उसके बाद 2000 से 2006 तक राज्यसभा मेंबर रहे। अगस्त 2015 में बिहार के गवर्नर अप्वाइंट हुए।
  • कोविंद बीजेपी के नेशनल स्पोक्सपर्सन भी रह चुके हैं,

2014 के लोकसभा चुनाव में कोविंद उरई से चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे थे। टिकट तय हो चुका था, लेकीन अचानक पार्टी ने टिकट काट दिया, उस समय मोदी ने कहा था कि अब आप सीनियर हो गए हैं, इसलिए अब आपको दूसरी जिम्मेदारी दी जाएगी, जब कोविंद का टिकट कटा तो वे बहुत निराश हुए। उन्होंने तो यहां तक सोच लिया था कि अब उनका राजनीति‍क सफर यहीं थम जाएगा

रामनाथ कोविंद जी का सामान्य जीवन : Ram Nath Kovind Biography in Hindi

जब रामनाथ पहली बार राज्यसभा मेंबर बने तो उनका सम्मान करने के लिए गांववालों ने पखौरा गांव में एक प्रोग्राम किया, कोविंद को उनके वजन के बराबर तौलने के लिए गांववालों ने 1-1 रुपए के 81 किलो सिक्के इकट्ठठा किए थे। साथ ही चांदी के 11 मुकुट और सोने का 1 मुकुट रखा गया था। लेकिन जब उन्हें पता चला तो उन्होंने खुद को तौलने से और मुकुट लेने से मना कर दिया, साथ ही गांव के 4 मेंबर्स की एक समिति बना दी, ताकि चांदी और सोने के मुकुट को बेचकर जो पैसा इकट्ठठा हो, उसे गांव की गरीब बेटियों की शादी में खर्च किया जा सके,

1994 में सांसद बनने के बाद रामनाथ कोविंद कानपुर के कल्याणपुर इलाके में 14 साल तक किराए के एक मकान में रहे

रामनाथ कोविंद जी के बारे में कुछ ख़ास बातें : Ram Nath Kovind Biography in Hindi

  • वे के आर नारायणन के बाद भारत के दूसरे दलित राष्ट्रपति होंगे
  • क़ानून की पढ़ाई के बाद कोविंद यूपीएससी की तैयारी के लिए दिल्ली आ गए, चुने जाने के बावजूद उन्होंने सिविल सेवा ज्वॉयन नहीं की और वकालत की प्रैक्टिस करने लगे
  • 1991 में वे भारतीय जनता पार्टी से जुड़े और महज तीन साल बाद उन्हें राज्य सभा की सदस्यता मिल गई. 2006 तक वे लगातार दो बार राज्यसभा के सांसद रहे
  • 2014 में नरेंद्र मोदी की सरकार के आने के बाद कोविंद को बिहार का गर्वनर नियुक्त किया गया
  • 1998 से 2002 तक के बीच कोविंद बीजेपी के अनुसूचित जाति मोर्चे के अध्यक्ष के तौर पर काम कर चुके हैं

रामनाथ कोविंद जी को देश का 14वें राष्ट्रपति बनने की बहुत बहुत बधाई


आपको Ram Nath Kovind Biography in Hindi | रामनाथ कोविन्द की जीवनी, कैसी लगी कृप्या comment करके हमें जरुर बताएं…..

If you like This Ram Nath Kovind Biography in Hindi, its request to kindly share with your friends on FacebookGoogle+Twitter, and other social media sites

दोस्तों ऐसे अच्छे Post लिखने में काफी समय लगता है, आपके comments से हमारा Motivation Level बढ़ता है आप comment करने के लिए एक मिनट तो निकाल ही सकते है, आपका जीवन खुशियों से भरा रहें

Read Mega Collection of Best Hindi Quotes,Thoughts in Hindi, Quotes in Hindi, Suvichar, Anmol Vachan, Status in Hindi & Slogans from Great Authors : पढ़िए महापुरषों के सर्वश्रेष्ठ हिंदी शुद्ध विचारों और कथनों का अद्भुत संग्रह

List of all Hindi Quotes : सभी विषयों पर हिंदी अनमोल वचन का अद्भुत संग्रह


यह भी पढ़ें :

यह भी पढ़ें :

LEAVE A REPLY